Best Viewed in Mozilla Firefox, Google Chrome

22
Sep

गन्धी कीट का जीवनचक्र

अंडे:                                                                                        

अंडे प्राय: एक ही पंक्ति में दिए जाते हैं, खासकर पत्ती के मध्य-नस पर। 

वे लाल-भूरे रंग से लेकर काले रंग तक के होते हैं तथा नवजात 5 से 6 दिनों में अंडे से बाहर निकल आते हैं।  

नवजात :

नवजात की अवधि 13-17 दिनों की होती है।  

नवजात वयस्क होने से पहले पांच सुप्त अवस्थाओं से गुजरता है। 

वयस्क :

मादा वयस्क बहुत ही सक्रिय कीट होती हैं।  

दिन के समय कीट अपनी सभी अवस्थाओं में पौधे के निचले छायादार भागों में रहना पसन्द करते हैं। 

 

BODY

1. बहुत से घास और यहां तक कि डायकॉटीलिडोनस (dicotyledonous) पौधों को होस्ट के रूप में सूचीबद्ध किया गया है।  

2. विभिन्न घासों का एकैनोक्लोआ कोलोना Echinocloa colona सफल उत्तरजीविता और प्रजनन के लिए विशिष्ट होस्ट माना गया है। 

3. जब खेतों में असमान रूप से दाने पकते हैं तब कीटों का सफलतापूर्वक गुणन देखा गया है और वे अगात फूल वाली किस्म से पछात फूल वाली किस्मों वाले खेतों की ओर चले जाते हैं। 

4. कीटों द्वारा पानिकम क्रस्गाल्ली Panicum crusgalli को खाते भी पाया है और तब वे धान की खेतों में विस्थापित हो जाते हैं। 

 

 

BODY

1. दाना निर्माण के शुरुआती समय में वयस्क और नवजात कीट नवविकसित दानों का रस चूसते हैं।  

2. दानों के निर्मण से पहले छोटे दूदेदार पत्ते और कलियों पर भी हमले होते हैं। पुष्प-गुच्छ में खाली अथवा चुकटे हुए दाने की उपस्थिति से पर्याक्रमण का पता चलता है। 

3. दाने में एक छिद्र पाया जाता है और उस छिद्र के आसपास एक भूरे रंग का धब्बा प्रकट हो जाता है जिसके कारण पुष्प-गुच्छ बदरंग दीखता है। 

 

 

1.ट्रियाजोफोस triazophos 40 EC @ 400 मिली/हेक्टेयर अथवा  

फोसलों Phosalone 35 EC @ 850  मिली/हेक्टेयर अथवा

कलोरपाईरीफास Chlorpyriphos 20 EC @ 1500  मिली/हेक्टेयर अथवा

क्वीनालफास Quinalphos 25 EC @ 1200  मिली/हेक्टेयर अथवा 

मोनोक्रोटोफास Monocrotophos 36 WSC @ 850  मिली/हेक्टेयर अथवा  

इथोफेनप्रोक्स Ethofenprox 10 EC @ 450  मिली/हेक्टेयर अथवा

फिप्रोनिल Fipronil 5 SC @ 600  मिली/हेक्टेयर का छिड़काव करें। 

2.कार्बिफ्युरान Carbofuran 3G @ 25 किग्रा /हेक्टेयर का प्रयोग करें। 

 

1. आरंभिक वानस्पतिक अवस्था में अंडे और ग्रब्स द्वारा फसल के अत्यधिक क्षतिग्रस्त पत्ते को ऊपर से तीन-चौथाई काट कर नष्ट करने से इसके जनसंख्या कम हो जाती है।

2. हिस्पा के अत्यधिक प्रभाव की स्थिति में, नाइट्रोज के उपरिवेशन की प्रक्रिया छोड़ दें। ध्यना दें कि कीट के नियंत्रित हो जाने के बाद यदि नाइट्रोजन का उपरिवेशन किया जाए तो इसकी संख्या पुन: बढ़ सकती है।

BODY

1. वयस्क भौड़े पत्ते के त्वचीय ऊतकों को खाते हैं और मोटा कीट पत्ते के ऊतक में सुराख बनाकर उसमें प्यूपा को जन्म देते हैं।  

2. भौंड़े लेमिना के शिरों के बीच क्लोरोफिल को कुरेदते हैं जिसके कारण सफेद रंग की समांतर धारियां बनती हैं। बाद में,  यहां तक कि पत्ते के शिरे को अन्धाधुन्ध खाने के कारण पत्ते पर सफेद छाले दिखाई देने लगते हैं।

3. गंभीर रूप से संक्रमित पत्ते सूख जाते हैं और फसल झुलसा हुआ दिखाई देने लगता है।  

 

1. मादा भौंड़े पत्ते के नर्म हिस्से को कुतरती है और मेसोफिल के अन्दर अंडे देती है। एक मादा कीट 33-101 अंडे देती है।  

2. अंडे सेने की अवधि 3-5 दिनों की होती है।  ग्रब्स 4 बार मोल्ट होता है और लार्वा की अवधि 10-15 दिनों की होती है। प्यूपा के अवधि 4-6 दिनों के एहोती है और वयस्क 78 दिनों तक जेवित रहते हैं। 

3. छोटे बर्रे अंडे और लार्वा पर हमला करते हैं। reduviid कीट वयस्कों को खाते हैं। तीन फफूंदी रोगजनक (पैथोजन) होते हैं जो वयस्कों पर हमला करते हैं।

 

22
Sep

राइस हिस्पा का विस्तार

1. पहले, एक छोटा विनाशक कीट, Hispa (Dicladispa armigera) अब चावल का एक प्रमुख कीट बन गया है खासकर भारत के उत्तर-पूर्वी, पूर्वी और मध्य क्षेत्रों में।

2. आसाम, बिहार, प. बंगाल, मध्य प्रदेश और आन्ध्र प्रदेश में हिस्पा एक प्रमुख विनाशक कीट के रूप में पाया जाता है।

वर्ग      : इन्सेक्टा

क्रम      : कोलियोप्तेरा Coleoptera 

फैमिली :  क्रयीसोमेंलीडे Chrysomelidae 

जीनस  :    डैक्लाडिस्पा Dicladispa 

स्पीसीज :  आर्मिजेरा armigera 

 

22
Sep

राइस रूट एफिड का प्रबन्धन

1. ऐसे प्राकृतिक शत्रु हैं जो राइस रूट एफिड की संख्या को नियंत्रित कर सकते हैं।

2. नवजात और वयस्क दोनों का एक छोटे ब्रैकोनिड बर्रे द्वारा भक्षण किया जाता है और mermithid निमेटोड्स का भौंड़ों द्वारा शिकार कर लिया जाता है।

Copy rights | Disclaimer | RKMP Policies