Best Viewed in Mozilla Firefox, Google Chrome

जड की गाँठ के निमेटोड का जीवन चक्र

PrintPrintSend to friendSend to friend

1. एम. ग्रेमिनिकोला वर्ष की विभिन्न अवधियों में अपना जीवन चक्र 26-51 दिनों में पूरा करता है। (राव और इसराइल, 1973)
2. जड़ों में प्रवेश दर्ज करने के बाद दूसरे चरण के किशोर मूठ में एक बिंदु पर स्थापित हो जाते हैं और निमेटोड स्राव से प्रेरित होकर बडी कोशिकाओं से उनका पोषण चूसना शुरू करते हैं।
3. दूसरे चरण के किशोर बाद में वयस्क हो जाते हैं। नर कमजोर स्टाइलेट्स के साथ कीट के रूप में हो जाते हैं।
4. मादाएं सेक्केट और नाशपाती के आकार की मुडी हुई गर्दन की होती हैं जो स्टेलर ऊतकों में मौज़ूद रहती है। प्रत्येक जड की गाँठ में एक या एक से अधिक मादाएं हो सकती हैं।
5. अंडे बहुतायत में एक पतले मैट्रिक्स में दिए जाते हैं और अंडों के प्रत्येक समूह में 150-300 अंडे होते हैं।

File Courtesy: 
भारत में चावल के निमेटोड पर शोध की स्थिति, प्रसाद, जे.एस., सोमशेखर, एन. तथा वाराप्रसाद, के.एस. (2011)। चावल ज्ञान प्रबन्ध पोर्टल के लिए लिखे गए दृष्टिकोण पत्र
Image Courtesy: 
Status of Rice Nematodes Research of India (DRR)
Copy rights | Disclaimer | RKMP Policies