Best Viewed in Mozilla Firefox, Google Chrome

Rice Leaf roller राइस लीफ रोलर

PrintPrintSend to friendSend to friend

1. लीफरोलर या लीफ फोल्डर (Cnaphalocrocis medinalisi) उच्चभूमि और

 निम्नभूमि चावल की फसलों में पाया जाने वाला सामान्य कीट है।

2. लार्वा पत्र फलक के किनारे को बांधकर उसे मोड़् देता है और उसके अन्दर रहकर मेसोफिल या हरित पदार्थ को खाता रहता है। 

3. लार्वा द्वारा खाए जाने के कारण पत्ती के उत्पादक क्षेत्रफल में कमी आती है और इससे पौधे की वृद्धि प्रभावित होती है। फसल में इसका अधिक प्रकोप होने से पौधों में सफेद धब्बे के साथ खेत का रुग्ण दिखाई पड़ता है। 

4. यदि इसका प्रकोप बूट लीफ अवस्था तक हो तो इस कारण फसल को भारी नुकसान पहुंचता है। मॉथ का रंग भूरा-नारंगी होता है जिसमें गहरे रंग के दो और एक सुस्पष्ट लहरदार धारियां भूरे रंग के अगले और पिछले डैनों पर दिखाई पड़ते हैं।  

5. पत्ते की निचली सतह पर अंडे एक-एक की संख्या में अलग-अलग रहते हैं।

6. जीवन चक्र कुल 25-40 दिनों का होता है। धान की फसल का मौसम नहीं रहने पर- ऑफ सीजन में, पोषण के लिए वैकल्पिक घासों के उपलब्ध रहने से कीट को इस क्षेत्र में जीवित बने रहने में सहूलियत हो जाती है।

 

 

File Courtesy: 
ICAR NEH,उमियम
Image Courtesy: 
CRRI
Copy rights | Disclaimer | RKMP Policies