Best Viewed in Mozilla Firefox, Google Chrome

राइस रैग्ड स्टंट के लक्षण

PrintPrintSend to friendSend to friend

1. राइस रैग्ड स्टंट रोग के लक्षण निम्नलिखित हैं: 

2. संक्रमित पौधा बुरी तरह से प्रभावित होता है, जिसकी आरंभिक वृद्धि अवस्था प्रभावित होती है। पत्तियां छोटी और गहरी हरी हो जाती है, जिसके किनारे कक्रच बनाते हैं। 

3. पत्र फलक के शीर्ष या आधार ऐंठन आ जाती है, जिससे उनका आकार सर्पिल हो जाता है। पत्तियों के किनारे असमान हो जाते हैं तथा ऐंठन की वजह से पत्तियां खुरदरी दिखाई पड़ती हैं।  

4. पत्तियों के खुरदरे हिस्से पीले से पीले-भूरे रंग के हो जाते हैं। पत्र फलक तथा आवरण पर शिरा फूल जाती है।  

5. सूजन हल्की पीली या सफेद अथवा गहरे भूरे रंग की होती है। फ्लैग पत्ती ऐंठनयुक्त होती हैं, वे कुपोषित तथा बूटिंग अवस्था में छोटी रहती हैं। पुष्पण देर से होता है।

6. अपूर्ण पुष्प-गुच्छ ऊपरी नोड पर उत्पन्न नोडल शाखाओं से निकलता है।  

7. आंशिक रूप से लगे पुष्प-गुच्छ उत्पन्न होते हैं तथा दाने सही प्रकार से नहीं भरते। 

 

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/ricedoctor/I ndex.php?option=com_content &view=articl e&id=563&Itemid=2768
Copy rights | Disclaimer | RKMP Policies