Best Viewed in Mozilla Firefox, Google Chrome

Growth & Development

Growth & Development
14
Sep

लेसर लेवल की कार्यविधि

1. लेसर कंट्रोल सिस्टम में एक लेसर ट्रांसमिटर, एक लेसर रिसीवर, 

एक विद्युतीय कंट्रोल पैनल और सॉलिनॉइड हाइड्रॉलिक कंट्रोल वाल्व के एक जोड़े की जरूरत होती है।

2. सर ट्रांसमिटर लेसर बीम को ट्रांसमिट करता है जो लेवलिंग बकेट पर लगे लेसर रिसीवर के द्वारा इंटरसेप्ट किया जाता है।

3. ट्रैक्टर पर लगे कंट्रोल पैनल रिसीवर से मिलने वाले सिग्नल को इंटरसेप्ट करता है और हाइड्रॉलिक कंट्रोल वाल्व को खोलता या बन्द करता है जिससे बकेट ऊपर या नीचे होता है।

File Courtesy: 
CRRI
14
Sep

लेसर लेवलिंग के लाभ

समतलीकरण की अन्य विधियों की तुलना में लेसर लेवल के लाभ हैं:

1.जल की 25-30% बचत।

2.फसल संस्थापन और उपज में वृद्धि।

3. खरपतवारों की समस्या में सुधार।

4.फसल के पकने में एकरूपता।

5.समय की बचत।

6.खेत की तैयारी और सिंचाई में लगने वाले पानी की मात्रा में कमी।

7. एकसमान अंकुरण और फसल की वृद्धि।

8. खेती में बीज, खाद, रसायन और इन्धन की बचत।

File Courtesy: 
CRRI
14
Sep

लेसर लेवल की तकनीक

1. लेसर लेवल सबसे अच्छी तरह वहां काम आता है जहां लंबी दूरी में एक सीधे दिशानिर्देश की आवश्यकता हो।

2. लेसर लेवल में एक लेसर का, एक एम्प्लीफायर और डायोड कहे जाने वाले एक सॉलिड-स्टेट उपकरण से निकले फोकस्ड बीम का इस्तेमाल किया जाता है।

3. लेसर लेवल एक प्रकाश पुंज (बीम ऑफ लाइट) निकालता है जो सीधे और लेवल रेफरेंस बिन्दु की जरूरत होने पर एक विजुअल चॉक लाइन के रूप में काम करता है।

4. प्रथम लेसर लेवल का इस्तेमाल केवल इनडोर इस्तेमाल के लिए किया जाता था क्योंकि लेसर का प्रकाश इतना चमकदार नहीं होता कि उसे बाहर की स्थिति में देखा जा सके।

File Courtesy: 
CRRI
14
Sep

खेत के समतलीकरण का अर्थशास्त्र

1. लेसर लेवलिंग में शुरू में बहुत खर्चा आता है लेकिन यदि जुताई की सही तकनीक का इस्तेमाल किया जाए तो संपूर्ण खेत को दुबारा लेवल करने की जरूरत कम से कम आठ से दस साल तक नहीं होती।

2. दूसरे या तीसरे साल ली गई खेत की माप सतह की स्थलाकृति में बहुत कम विभिन्नता दर्शाती है।

3. अन्य लाभ:

(a) सीधी बुआई के लिए उपयुक्त।

(b) समय पर खेत की जुताई की जा सकती है।

(c) तैयार फसल को एक समान रूप से काटा जा सकता है।

(d) खरपतवारों को हटाने पर आने वाले व्यय में कमी।

File Courtesy: 
CRRI
14
Sep

खेत के समतलीकरण के लाभ

1. जल की 25-30% बचत।

2. फसल संस्थापन और उपज में वृद्धि।

3. खरपतवारों की समस्या में सुधार।

4. फसल के पकने में एकरूपता।

5. कुल कृषिकर्म में कम समय का लगना।

6. खेत की तैयारी में लगने वाले पानी की मात्रा में कमी।

File Courtesy: 
CRRI
14
Sep

खेत की लेवलिंग क्यों?

खेत प्रायः दिखने में तो समतल लगते हैं लेकिन उनमें व्यापक स्थलाकृतिक असमताएं होती हैं।

1. खेत/गांव/ब्लॉक/जिला/क्षेत्र के स्तर पर फसल की उपज में व्यापक असमानता पाई जाती है।

2. जल के सही वितरण के लिए।

3. जल के संरक्षण के लिए।

4. पोषक तत्त्वों की दक्षता बढ़ाने के लिए।

5. सटीक कृषिकार्य का विकल्प ।

6. फसल की ऊंची पैदावार।

File Courtesy: 
CRRI
14
Sep

लेसर लेवलिंग क्या है?

1. खेत की लेसर लेवलिंग विधि लेवलिंग की वह विधि है जिसमें एक जमीन की एक निश्चित सीमा तक वांछित ढाल के अन्तर्गत सारे खेत में लेसर बीम की मदद से समतलीकरण किया जाता है।

2. जमीन की सतह के ऊबड़-खाबड़ होने की वजह से बीज के अंकुरण,फसल के ठवन और उपज पर असर पड़ता है।

3. किसान भी इस बात को समझते हैं और इसलिए वे अपने खेतों को उचित प्रकार से समतल करने के लिए पर्याप्त समय और संसाधन लगाते हैं।

4. हालांकि, समतलीकरण की पारंपरिक विधियां मुश्किल, समय साध्य और खर्चीली होती हैं।

File Courtesy: 
CRRI
14
Sep

लेसर लेवलिंग

1. भौम जल के दोहन की खतरनाक प्रवृत्ति की रोक-थाम के लिए खेत में अपनाए जाने वाली विभिन्न संरक्षण विधियों के जरिए सिंचाई जल के संरक्षण की तत्काल आवश्यकता है।

2. लेसर लेवलर के जरिए खेत का समतलीकरण एक ऐसी सटीक विधि है जो सिंचाईजल के संरक्षण के लिए बहुत ही उपयोगी है।

File Courtesy: 
CRRI
14
Sep

सर्वेक्षण मापों का रिकॉर्ड

फील्ड बुक में आंकड़े दर्ज करने की कई विधियां होती हैं।

1. यदि सर्वे बुक के एक से अधिक पन्नों का इस्तेमाल किया जाए तो हर पन्ने की गणितीय जांच जरूर करनी चाहिए।

2. यह जांच तभी कारगर होगी जब हर पन्ने की शुरुआत बैक साइट (BS) से की जाए और अंत फोरसाइट (FS) से। इसके लिए, यदि आमतौर पर पन्ना इंटरमीडिएट साइट(IS) पर खत्म होता है तो यह उस पन्ने पर फोरसाइट के रूप में और अगले पन्ने की शुरुआती लाइन पर बैक साइट के रूप में लिखा जाता है। जब अनेक पठन लिया जाए तो इससे यह सुनिश्चित होता है कि गणितीय जांच से मिलने वाली त्रुटियां एक ही पन्ने को ढूंढने से मिल जाएं।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land- leveling-mainmenu-65/topographic-surveying-mainmenu-78 /recording-survey-measurements-mainmenu-82
14
Sep

स्थलाकृतिक सर्वेक्षण- लेसर लेवल की मदद से

1. निर्माण उद्योग में सर्वेक्षण के लिए लेसर लेवल आजकल बहुत प्रचलित है।

2. जीरो-स्लोप लेसर लेवल की कीमत लगभग 1000 अमेरिकी डॉलर है और यह सर्वे के लिए बहुत ही प्रभावी और सटीक होता है।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land-leveling-mainmenu-65/topographic-surveying-mainmenu-78/recording-survey-measurements-mainmenu-82
14
Sep

ऑपटिकल लेवल की मदद से स्थलाकृतिक सर्वेक्षण

1. स्वचालित ऑप्टिकल लेवल अब असानी से उपलब्ध है, वह भी अपेक्षाकृत सस्ती कीमत और कम परिचालन त्रुटि के साथ।

2. दंड सहित एक अच्छी क्वालिटी का स्वचालित लेवल की कीमत 350 से लेकर 500 अमेरिकी डॉलर के बीच होती है।

3. ऑप्टिकल सर्वेक्षण के लिए दो लोगों की जरूरत होती है: एक व्यक्ति दंड पकड़ने के लिए और दूसरा लेवल को ऑपरेट करने के लिए।

4. बिल्डर्स ऑप्टिकल लेवल, जो आसानी से उपलब्ध है, कृषि कार्यों के लिए उपयुक्त नहीं है।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land- leveling-mainmenu-65/topographic-surveying-mainmenu-7 8/recording-survey-measurements-mainmenu-82
14
Sep

खेत के गीले रहते 4 पहियों वाले ट्रैक्टर की मदद से दो बार जुताई

1. खेत की जुताई मध्य भाग से किनारे की ओर करें।   

2. खेत के गीले रहते जुताई करना अच्छा रहता है क्योंकि सूखे खेत की जुताई में ट्रैक्टर की अधिक ताकत बरबाद होती है।

3. खेत के गीले रहने पर जुताई करना सबसे अच्छा होता है।

4. कठोर खेत की जुताई के लिए तवे या मोल्डबोर्ड वाले हल की आवश्यकता होती है।

5. दूसरी बार के लिए तवे वाले हैरो या टाइन उपकरण उपयुक्त होते हैं।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land-leveling-mainmenu-65/land-leveling-using-a-4-wheel-tractor-mainmenu-73
Image Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri .org/landprep/index.php/land-le veling-mainmenu-65/principles- of-land-leveling-mainmenu-69
13
Sep

खेत में भरे पानी की मदद से स्थलाकृतिक सर्वेक्षण

1. अपेक्षाकृत कम दूरी के लिए खेत का जलस्तर ऊंचाई मापने का एक प्रभावी तरीका है।

2. यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि लाइन में हवा का कोई बुलबुला फंसा न रहे।

3. जलस्तर का निर्माण बहुत ही सरल और सस्ता होता है लेकिन इसके लिए दोनो सिरों पर एक ऑपरेटर की जरूरत होती है।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land -leveling-mainmenu-65/topographic-surveying-mainmenu-7 8/recording-survey-measurements-mainmenu-82
13
Sep

स्थलाकृतिक सर्वेक्षण- स्थलाकृतिक सर्वेक्षण का परिचय

1. लेवलिंग एक सर्वेक्षण प्रक्रिया है जो धरातल पर स्थित बिन्दुओं की सापेक्ष ऊंचाइयों को निर्धारित करती है।

2. ऑप्टिकल लेवल की दूरबीन या लेसर सिस्टम पर लगे लेसर बीम द्वारा संधान की समांतर रेखा अथवा दृष्टि रेखा (लाइन ऑफ साइट) प्राप्त होता है।

3. जिन बिन्दुओं के लेवल जरूरी हैं उनकी ऊंचाइयां इस लाइन से अंशांकित दंडों को देखकर या उनका पठन लेकर ज्ञात की जाती है जिन्हें बारी-बारी से प्रत्येक बिन्दु पर रखा जाता है।

4. दृष्टि रेखा के लिए इसी तरह पानी का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land -leveling-mainmenu-65/topographic-surveying-mainmenu-7 8/recording-survey-measurements-mainmenu-82
13
Sep

ऑपटिकल लेवल की मदद से दूरी की माप

1. ऑप्टिकल लेवल दूरी को मापने की त्वरित और सरल विधि है।

2. माप साइट की सीधी रेखा में लेनी चाहिए या ऑप्टिकल लेवल की मदद से प्रत्येक ‘स्टाफ रीडिंग’ (दंड पठन) के लिए दिशा के कोण का इस्तेमाल करते हुए समायोजन की आवश्यकता होगी।

3. ट्राइपॉड सेट करें जिसपर ऑप्टिकल लेवल उस बिन्दु के ऊपर जुड़ा हो जहां से दूरी की माप करनी है।

4. दंड को उस स्थान पर स्थित करें जहां तक की दूरी मापनी है।

5. ऊपरी और निचले स्टाडिया लाइन की ऊंचाई को रिकॉर्ड करें। 6. एक पठन को दूसरे से घटाएं और प्राप्त संख्या को 100 से गुणा करें। परिणामी संख्या मीटर में होगी।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land-leveling-mainmenu-65/measuring-distance-mainmenu-74
13
Sep

अंशांकित डग (कदम या पग) द्वारा दूरी की माप

1. कई बार दूरी के सटीक मापन की आवश्यकता नहीं होती। जहां 5% से कम 

की त्रुटि स्वीकार्य हो, दूरी की माप अंशांकित डग में की जाती है।

2. भिन्न-भिन्न पर्यावरणीय दशाओं में हर आदमी के डग की माप अलग-अलग होती है।

3. डग के अंशांकन के लिए व्यक्ति को चाहिए कि वह हर पर्यावरणीय स्थिति के अंतर्गत ज्ञात दूरी तक चलने में उठाए गए डगों की संख्या की गिनती करे।

4. यह गिनती चलने वाली सतह और, बाधाओं की उपस्थिति और ढाल के अनुसार अलग-अलग होगी।

5. अपने डग का अंशांकन करना

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land leveling-mainmenu-65/measuring-distance-mainmenu-74
Image Courtesy: 
http://www.knowledgebank.i rri.org/landprep/index.php /land-leveling-mainmenu- 65/measuring-distance-mainmenu-74
13
Sep

फीते की मदद से दूरी की माप

1. फीता से मापन दूरी मापने की सबसे सामान्य तरीका है। फीता स्टील, 

फाइबरग्लास या प्लास्टिक का बना होता है और यह एक से लेकर 200 मी. तक लंबा होता है।

2. फीते के आरंभ बिन्दु के बारे में खास ध्यान रखना चाहिए। कुछ फीतों में धातु का छल्ला या टैग होता है।

3. किसी अन्य फीते की तुलना में स्टील के टेप ज्यादा सटीक होते हैं लेकिन ये कम लचीले होने के कारण बार-बार इस्तेमाल करने पर टूटने की संभावना अधिक रखते हैं।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land-leveling-mainmenu-65/measuring-
Image Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land-leveling
13
Sep

दूरी मापन का परिचय

दूरियों को मापने कए कई तरीके हैं। सबसे सामान्य तरीके हैं:

1. फीता से मापन

2. अंशाकित डग

3. ऑपटिकल लेवल

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land- leveling-mainmenu-65/measuring-distance-mainmenu-74
13
Sep

दूरी का मापन

1. दूरी का मापन जरूरी है क्योंकि खेत में कई सारे महत्वपूर्ण निर्णय दूरियों को सही-सही मापकर ही लिया जा सकता है।

2. उपकरण का अंशांकन, अनुप्रयोग की दर का निर्धारण, प्रति इकाई क्षेत्रफल उपज की माप और परिचालन की गति ऐसे कुछ चर हैं जो इनपुट के रूप में दूरी की माप पर निर्भर करते हैं।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land-leveling-mainmenu-65/measuring-distance-mainmenu-74
13
Sep

मेड़ का रखरखाव या उसकी मरम्मत

खिसकाए जाने वाली मिट्टी की मात्रा के आधार पर 50 KW के ट्रैक्टर और दो मी. चौड़े बकेट की मदद से रोज एक से दो हे. खेत को समतल किया जा सकता है।

File Courtesy: 
http://www.knowledgebank.irri.org/landprep/index.php/land-leveling-mainmenu-65/land-leveling-using-a-4-wheel-tractor-mainmenu-73
Syndicate content
Copy rights | Disclaimer | RKMP Policies